Log In
This site is not collecting any personalized information for ad serving or for personalization. We do not share any information/cookie data about the user with any third party.OK  NO

माता-पिता को कैसे बताएं कि आप एक ट्रांसजेंडर हैं?

ट्रांसजेंडर के तौर पर खुद की नई पहचान बनाना मुश्किल हो सकता है। यहां हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप ऐसे हालात का सामना आसानी से कर सकते हैं।

कई लोग अपनी सेक्सुअलिटी और सैक्सुअल इंट्रेस्ट के बारे में नहीं जान पाते हैं। वहीं, कुछ लोगों को अपनी सेक्सुएलिटी के बारे में काफी देर से पता चलता है और जब इसका पता चलता है तो सबसे बड़ी मुश्किल आती है माता-पिता और परिवार को इसकी जानकारी देने में। ट्रांसजेंडर होना और इस सच्चाई के साथ लोगों के सवालों सामना करना बेहद कठिन हो सकता है। ट्रांसजेंडर के तौर पर खुद की नई पहचान बनाना मुश्किल हो सकता है। यहां हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप ऐसे हालात का सामना आसानी से कर सकते हैं।

कैसे बताएं कि आप कौन हैं ?
जब आपको इस बात का अहसास हो जाए आप एक ट्रांसजेडर हैं तो लोगों को भी इस बारे में बताएं। उन्हें बताएं कि वो आपको लड़के की तरह पुकारे या लड़की की तरह आपसे व्यवहार करें। इससे उन्हें आपके जेंडर के बारे में मालूम होगा। साथ ही उन्हें इस बात की भी जानकारी होगी कि आप अपने जेंडर के साथ खुश हैं और ये आपका निर्णय है। ये आप पर निर्भर करता है कि लोगों को इस बारे में कैसे बताएंगे। अलग-अलग वक्त पर इसकी जानकारी आप परिवार और दोस्तों को दे सकते हैं। वहीं, आप चाहे तो कुछ लोगों को इस बारे जानकारी देने का विचार छोड़ सकते हैं क्योंकि गैरजरूरी लोगों को यह मालूम हो ऐसा जरूरी नहीं है।

गे, लेस्बियन, बायसैक्सुअल और ट्रांसजेंडर होने में अंतर होता है। गे और लेस्बियन जैसे शब्द आज बेहद आम हैं लोगों को समझ आते हैं लेकिन ट्रांसजेंडर शब्द कुछ लोगों के लिए नया हो सकता है, खासतौर पर माता-पिता के लिए।

माता-पिता को कैसे बताएं?
अपने माता-पिता के सामने आने से पहले, कुछ बातें जान लीजिए। पहले ट्रांसजेंडर से जुड़ें अपने माता-पिता के धार्मिक विश्वासों और विचारों के बारे में सोचें। इससे आपको अंदाजा होगा कि वे इस पर क्या और कैसी प्रतिक्रिया देंगे। माता-पिता इस बारे में नकारात्मक प्रतिक्रियां ही देंगे, यह समझने के बाद भी उन्हें ये बताने के लिए तैयार हैं तो कुछ बातों को समझें ताकि उन्हें आसानी से समझा सकें।

  • इस तथ्य को स्वीकार करें कि आपके माता-पिता शुरू में परेशान हो सकते हैं।
  • उनकी राय समझते हैं लेकिन उन्हें ये भी बताए कि आप भी अपने जीवन के एक अहम दौर से से गुजर रहे हैं।
  • जब वे अन्य चीजों में व्यस्त हों तो उनसे बात करने की कोशिश न करें।
  • इससे पहले कि आप वास्तव में उनसे बात करें, अभ्यास करें। अपनी बात कहने से पहले जानिए कि आप किन शब्दों में उन्हें समझाएंगे।
  • उस वक्त को याद करें जब इस बात का अहसास हुआ था कि आप औरों से अलग हैं और खुद से अपनी सेक्सुअलिटी को लेकर सवाल करना शुरू किया था।  
  • उन्हें आपके जरिए दी गई जानकारी को स्वीकार करने का समय दें। शुरूआती झटके से उबरने के बाद वे आपके लिए सबसे ज्यादा सहायक बन सकते हैं।
  • उन्हें उस बारे में बताएं जब आपने सबसे पहले खुद से अपनी सैक्सुअलिटी के बारे में सवाल किया था।

अगर आप अब भी अपनी सेक्शुअलिटी के बारे में उलझन में हैं या इस सच्चाई का आप सामना नहीं कर पा रहे हैं तो हमारे विशेषज्ञ मदद के लिए मौजूद हैं। आप हमारे साथ सुबह 11 से रात 8 बजे के बीच चैट कर सकते हैं या [email protected] पर हमें ईमेल लिख सकते हैं।

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

NEXT STORY


Things you need to know about Erectile Dysfunction

Psychological ED is an emotional indicator: it tells you that there are other areas of your life that need your attention.

 

Erectile dysfunction (ED) is the lack of ability to get or keep an erection firm enough to have sexual contact. It’s also sometimes called as impotence. Often ED isn’t uncommon. Many males experience it during times of stress. But a frequent ED can be a sign of health problems that need treatment. It can also be a symptom of emotional or relationship difficulties that may need to be addressed by a professional.

What are the symptoms of ED?

  • Difficulty in getting an erection
  • Trouble in maintaining an erection during sexual activities
  • Premature ejaculation
  • Late ejaculation
  • Anorgasmia, which is the inability to achieve orgasm after enough stimulation

What causes ED?

Psychological causes:

  • Stress
  • Performance anxiety
  • Depression
  • Relationship trouble
  • Porn addiction
  • Guilt and low self esteem
  • Sexual indifference and boredom

How to Overcome ED?

You should discuss to your doctor if you have any of these symptoms, especially if its there for two or more months. Your doctor can decide if your sexual disorder is caused by an underlying condition that requires medical treatment.

Healthy lifestyle habits may prevent ED, and in some situations reverse the condition:

  • Exercise regularly.
  • Maintain a low blood pressure.
  • Eat a balanced and a nutritious diet.
  • Maintain a normal weight.
  • Avoid alcohol and cigarettes.
  • Minimize your stress.

Therapy is a great way of targeting any feelings of guilt, shame, anxiety or inadequacy that might cause your erectile difficulties. Working through your psychological concerns or relationship issues with a mental health professional can help to reduce the effects those issues have on your sexual act. Guided imagery therapy is a very effective in treating psychological impotence.

Guided imagery therapy is alike guided meditation. The client is asked to relax, close his eyes and practice visualization exercises that allow the mind to regain control over the body by simply letting go of any unhelpful thoughts or feelings.

Communicating openly with your partner can help you to realize whether some of the expectations that you have for yourself are unrealistic. Furthermore, this sort of open communication is vital for increasing emotional intimacy between you, which can help to improve your sex life.

Sex experts suggest that men with psychological ED need to re-educate themselves. By doing this you can begin to readjust your unrealistic expectations about yourself. This can reduce anxiety which will help you to take control of your erectile functioning. There are many inaccurate and unhelpful misconceptions about sex that men fall victim to. Because they expect the impossible from themselves, then they often develop performance anxiety out of feelings of inadequacy and guilt. 

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

Copyright TEENTALK 2018-2019
Disclaimer: TeentalkIndia does not offer emergency services and is not a crisis intervention centre, if you or someone you know is experiencing acute distress or is suicidal/self harming, please contact the nearest hospital or emergency/crisis management services or helplines.