Log In
This site is not collecting any personalized information for ad serving or for personalization. We do not share any information/cookie data about the user with any third party.OK  NO

ईर्ष्यालु दोस्तों से कैसे निपटें

लोग कहते हैं कि आपसे जब कोई ईर्ष्या करता है तो खुश होना चाहिए। क्या सच में ऐसा होना चाहिए?

आप जानते हैं कि आप एक शानदार इंसान हैं, दूसरे लोग भी आपकी बहुत तारीफ करते हैं लेकिन तब आप क्या करेंगे जब यह तारीफ ईर्ष्या (जेलसी) में बदल जाएगी? इस तरह की मुश्किलें खासकर दोस्ती जैसे रिश्ते में जरूर आती है। आपको काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है जैसे धोखा, लड़ाई-झगड़े, बहस और यहां तक कि ईर्ष्या भी। जो इंसान आपसे ईर्ष्या करता है वो आपकी लाइफ में बहुत नकारात्मकता लेकर आता है। ईर्ष्या जैसी भावनाएं अच्छी से अच्छी दोस्ती को भी तोड़ देती हैं। और अगर आपने इसे अनदेखा किया तो शायद आप अपना अच्छा दोस्त भी खो दें। हालांकि, ईर्ष्या को पहचानना और इससे दूर होने के लिए प्रयास करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है, क्योंकि यह दुश्मनी को ज़्यादा बढ़ावा देता है।


ईर्ष्या को समझें
आपको टीचर से अच्छे रिमार्क्स मिले, या फिर आपको अपना प्यार मिल गया या जैसा बॉडी फिगर आप चाहते थे आपको मिल गया हो, ऐसे खुशी के समय में सबसे पहले आप यह खबर उनसे शेयर करते हैं जिनसे आप बहुत प्यार करते हैं खासकर फ्रेंड्स और फैमिली से। इनमें से कुछ ऐसे भी होते हैं जो खुश होने के बजाय यह मानते हैं कि ये तो कोई भी कर सकता है या फिर आपके अचीवमेंट से खुश नहीं होते। उन्हें ऐसे व्यवहार से अगर आपको बुरा लगता है और आपकी खुशी दुख में बदल जाती है तो समझ लीजिये कि यही ईर्ष्या है।

ईर्ष्यालु दोस्तों (जेलस फ्रेंड) कैसे निपटें:


नजरअंदाज न करें
अगर ऐसी बातों पर आप ध्यान नहीं देंगे तो बात और बिगड़ सकती है। ईर्ष्या बढ़ जाएगी और आपकी दोस्ती में इससे मुश्किलें भी आ सकती हैं।

बात करो मगर आराम से
एक अच्छा कम्युनिकेशन ही इस मुश्किल को कम कर सकता है। अपने दोस्त से इस बारे में आराम से बात करें और अगर वह आपकी बुराई करे तो आप गुस्सा न हो बल्कि धैर्य रखें फिर बात करें।

भावनाओं को समझें
खुद को दोस्त की जगह पर रखकर देखें और उसकी भावनाओं को समझें। ऐसा भी हो सकता है कि आप अपने अचीवमेंट से इतने ज्यादा खुश हों जिससे दोस्त को बुरा लग रहा हो।

थोड़ा समय दें
एक बार जब आप अपने दोस्त से बातचीत कर लें तो एक ब्रेक लें और उसे थोड़ा समय दें। उन्हें स्पेस दें और आपके बारे में अच्छा सोचने या अपना दृष्टिकोण तुरंत बदलने के लिए दबाव न बनाएं।

ध्यान दें-
ईर्ष्यालु व्यक्ति को समझने और इसका समाधान करने के लिए बहुत समय और ध्यान देने की आवश्यकता होती है। आपको नकारात्मकता से छुटकारा पाने के लिए सकारात्मकता के साथ समझाना होगा। याद रखें कि ईर्ष्या की जड़ें कम आत्मविश्वास और असुरक्षा में होती हैं।

तय करें कि क्या आप अभी भी दोस्त बनना चाहते हैं-
ईर्ष्यालु मित्र से दोस्ती रखना कठिन हो सकता है। और अगर ऊपर दिए इन सारे स्टेप्स से भी वह दोस्त न बदले तो आपके लिए यही सही होगा कि इस दोस्ती को तोड़ दें क्योंकि ऐसी दोस्ती में कुछ नहीं रखा सिवाय ईर्ष्या के।

निस्संदेह, ईर्ष्या एक मानवीय भावना भी है, लेकिन इससे निपटने के तरीके हैं। आपको बस यह पता लगाना है कि कैसे इससे निपटा जा सकता है।

 

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

NEXT STORY


How to deal with a jealous friend

They say you should be flattered when people are jealous of you. Really?

You know you’re an amazing person, and you also know that others know how amazing you are, but what do you do when mere admiration crosses over the line into jealousy? There are many challenges we face in our relations friendships, especially in friendship. There are many challenges like betrayal, conflict, argument, and even jealousy. A jealous friend creates unnecessary drama and also negatively affects our lives. Jealousy can break even the strongest bonds of friendships and if you avoid acknowledging it, you might lose your friendship as well. However, addressing and getting over a friend’s jealousy can be difficult as it is veiled under layers of denial and hostility.

Let’s understand jealousy

You got excellent remarks from your teacher, or your romance has just begun, or you’ve attained the physique you wanted. Your first reaction will be to share it with people you love the most, especially your family and friends. And when you do that, instead of feeling happy for you, your any particular friend downplays your happiness and achievement and considers it something anyone can do. Consequently, your happiness turns into sorrow and you feel hurt and confused about their behaviour. That is jealousy.

How to deal with a jealous friend

Don’t ignore it

If you don’t pay attention to this matter, things will only get worse, as it will increase the jealousy and displeasure among you two.

Talk it out but gently

Honest communication fixes almost everything. Speak to your friend about how they feel and be patient to what they are saying. Don’t get upset or angry if they criticize you.

Be empathetic

Think about what they might be feeling towards you. How you would like to be confronted if they were you. Maybe you are getting too excited about your achievement and rubbing it in their face.

Give them some time

Once you’ve had a proper conversation with your friend, take a break and let it all get in your head one at a time. Give them some space and don’t push them into thinking good about you or change their perspective immediately.

Give them attention

Curing a jealous person requires plenty of time and attention. You have to surround them with positivity to get rid of the negativity. Remember that jealousy has its roots in low self-confidence and insecurity.

Decide if you still want to be friends

Dealing with a jealous friend can be difficult. And even after all the above-mentioned steps, your friend doesn’t seem to change, it’s time for you to move on as this friendship will turn into a toxic one.

Undeniably, jealousy is a human emotion too, but there are ways to deal with it. You just have to figure out how.

 

 

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

Copyright TEENTALK 2018-2019
Disclaimer: TeentalkIndia does not offer emergency services and is not a crisis intervention centre, if you or someone you know is experiencing acute distress or is suicidal/self harming, please contact the nearest hospital or emergency/crisis management services or helplines.