Log In
This site is not collecting any personalized information for ad serving or for personalization. We do not share any information/cookie data about the user with any third party.OK  NO

वो बातें जो एक मां को अपनी टीनेज बेटी के साथ जरूर करना चाहिए

किसी भी बेटी के लिए मां उसकी जिंदगी का सबसे अहम हिस्सा होती है। फिर चाहे वो छोटी हो या बड़ी, युवा हो या बुजुर्ग, मां के लिए वो हमेशा बच्ची ही रहती है। हालांकि मां-बेटी का ये रिश्ता जितना प्यार भरा रहता है, उसमें उतनी ही नोक-झोंक भी देखने को मिलती है।

किसी भी बेटी के लिए मां उसकी जिंदगी का सबसे अहम हिस्सा होती है। फिर चाहे वो छोटी हो या बड़ी, युवा हो या बुजुर्ग, मां के लिए वो हमेशा बच्ची ही रहती है। हालांकि मां-बेटी का ये रिश्ता जितना प्यार भरा रहता है, उसमें उतनी ही नोक-झोंक भी देखने को मिलती है। खासकर किशोरावस्था के दौरान ये नोक-झोंक कई बार मतभेद के रूप में भी बदल जाती है। बढ़ती उम्र के दौरान शरीर में होने वाले परिवर्तनों और मानसिक स्थिति में बदलाव की वजह से अक्सर ऐसा होता है। ऐसे  में लड़कियों के लिए मां का मार्गदर्शन बहुत जरूरी बन जाता है। यहां हम उन चीजों के बारे में बता रहे हैं, जिनका जिक्र एक मां को अपनी किशोर बेटी से बात करने के दौरान जरूर करना चाहिए।



जरूरत पड़ने पर ना कहना भी आना चाहिए

कई बार शिकायत करने या ना कहने को लेकर टीनेज लड़कियां दबाव महसूस करती हैं। फिर चाहे वो स्कूल में हों, दोस्तों में हों या फिर किसी अन्य व्यक्ति के साथ हों। जबकि उन्हें लगता है कि हां में हां मिलाकर वे अपनी छवि ज्यादा अच्छी बना सकती हैं। लेकिन उसे ये पता होना चाहिए है कि कई बार ना कहना भी बेहद जरूरी रहता है। बहुत सी चीजों को लेकर लड़कियों को स्कूल में ढेर सारी बातें सुनाई जाती हैं, ऐसे में उन्हें आपकी सलाह की जरूरत नहीं रहती। इसकी बजाए आप अपनी बेटी को ये बता सकती हैं कि जिन कामों को करने के लिए वे सहमत हैं, उन्हें करते वक्त सहज महसूस करना ज्यादा महत्वपूर्ण हैं। फिर चाहे वो किसी दोस्त के साथ वक्त गुजारना हो, किसी की मदद करना हो या किसी के लिए कुछ करना हो। इस बात को सुनिश्चित करें कि वो ये बात समझ जाए कि किसी से ना कहना और इसे बाहर निकालना पूरी तरह से ठीक है।

आत्मविश्वास होना बेहद जरूरी है

जब लड़कियां 13 साल की उम्र में कदम रखती हैं, तो उन्हें ऐसा लगता है जैसे उनका आत्मविश्वास कई गुना कम हो गया है। इसके बाद वे अचानक बच्चों की तरह महसूस करना भी बंद कर देती हैं। हालांकि वास्तव में वे बड़ी तो हुई नहीं होती हैं। ऐसी स्थिति में एक मां के रूप में, आपको अपनी बेटी को ना केवल ये बताने की जरूरत है कि वो पूरी तरह ठीक है, बल्कि उसे अपना आत्मविश्वास दिखाने की भी जरूरत रहती है। आखिर में आपकी बेटी को यह समझने की जरूरत है कि ये उसके कपड़ों या सामान की पसंद नहीं है जिसे याद रखा जाएगा, बल्कि इसकी जगह पर जिस तरह से वो खुद को रखती या प्रस्तुत करती है, वो महत्वपूर्ण है। एक मां के तौर पर आपका काम बेटी को सिर्फ सलाह देना या रोक-टोक करना ही नहीं है, इसके अलावा अच्छे फैसलों के लिए उसकी तारीफ करना भी बेहद जरूरी है

अपने आप को सुरक्षित रखना सीखो

जैसे-जैसे आपकी छोटी लड़की बड़ी होती जाती है, उसका जीवन बदलता जाता है और आजादी के साथ ही उसके जीवन में कई अन्य चीजें भी आती जाती हैं। वो पार्टियों में जाना चाहेगी, दोस्तों के साथ घूमना चाहेगी और डेट्स पर भी जाना चाहेगी। ये सारी चीजें जहां एक तरफ उसके आत्मविश्वास, मानसिकता और सामाजिक कौशल के लिए बेहद जरूरी हैं, वहीं दूसरी ओर वे संभावित खतरों की आशंका को भी बढ़ाते हैं। आपको अपनी बेटी के साथ इस बारे में भी बात करना चाहिए कि वे कौन सी स्थितियां हैं, जिन्हें नजरअंदाज किया जाना चाहिए और कभी कुछ अनहोनी होने पर खुद को बचाने के लिए क्या करना चाहिए।

कभी-कभी रोना अच्छा रहता है

आधुनिक दौर में कई पत्रिकाएं और ब्लॉग में ये पढ़ा जा सकता है कि एक मजबूत महिला को कैसे बनाया जाए। मजबूत होने का मतलब ये है कि हम खुद की कमजोरियों को स्वीकार करते हुए उन पर विजय पाएँ। उदाहरण के लिए अगर आपकी टीनेज बेटी उदास है, तो आपको उसे ये स्पष्ट करना होगा कि वो आपके पास आकर बात कर सकती है और रो भी सकती है। कभी-कभी एक खराब परिस्थिति से बाहर निकलने के सबसे बेहतर तरीका ये होता है कि किसी की भावनाओं को आंसूओं के रूप में बह जाने दें। महत्वपूर्ण बात ये है कि आपकी बेटी इस बात को समझे कि आँसू कमजोरी का संकेत नहीं देते हैं।

हर हाल में सक्रिय बने रहना जरूरी है

लड़की को ये पता होना चाहिए कि दुखी होने पर रोना-धोना ही आखिरी विकल्प नहीं होता है। इस मामले में एक मां अपनी बेटी को जो सबसे अच्छी बात सिखा सकती है वो ये है कि दुख या तकलीफ पर ध्यान देने की बजाए वो उससे बाहर निकलने के संभावित समधानों के बारे में सोचना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि वो खुद को दुखों से बाहर निकलने के लिए हमेशा सक्रिय रखे। मां बेटी को समझाए कि हर समस्या का कोई ना कोई समाधान जरूर होता है। इसके लिए बेटी को सिर्फ सक्रिय रहने की जरूरत है।

जरूरत पड़ने पर मदद जरूर मांगना चाहिए

कई लड़कियां मदद मांगने में हिचकिचाती हैं और इसे एक बोझ की तरह समझते हुए इसे मांगने में खुद को कमजोर महसूस करती हैं। इसलिए ये बेहद महत्वपूर्ण है कि आप उसके सामने इस बात को स्पष्ट करें कि हर किसी को कभी ना कभी मदद की जरूरत पड़ती है और मुसीबत के वक्त या जरूरत के वक्त अपनी परेशानियां बताने या मदद मांगने में उसे बिल्कुल भी डरना नहीं चाहिए। अपनी टीन बेटी को ये बात बिल्कुल स्पष्ट कर दें कि आप उसके लिए हमेशा वहां खड़ी हैं, और उससे पूछें कि क्या उसे किसी तरह की मदद की जरूरत है, इससे पहले कि उसे पूछने के बारे में सोचने का मौका मिले।

अच्छी जिंदगी के लिए शिक्षा बेहद जरूरी है

टीनेज के दौरान बहुत-सी लड़कियों का ध्यान पढ़ाई से ज्यादा रोमांस खोजने, परिवार की मदद करने और अन्य किसी जगह पर रहता है। लेकिन आपको अपनी बेटी को ये बात समझाने की जरूरत है कि आधुनिक दुनिया में अच्छी शिक्षा ही उसके भविष्य में काम आएगी। फिर भले ही आपकी शिक्षा का स्तर कुछ भी क्यों ना रहा हो। इस बात को आप उसे सफल महिलाओं के उदाहरण देकर भी समझा सकती हैं। कहा जाता है कि खुशियां खरीदी नहीं जा सकतीं, लेकिन अच्छी शिक्षा निश्चित रूप से आपकी बेटी के आरामदायक ढंग जीवन जीने की संभावनाओं को बढ़ा सकती है।

अपने आप के लिए खड़े होना आना जरूरी है

जीवन की हर परिस्थिति में अनावश्यक टकराव और संघर्ष से बचना आपका लक्ष्य होना चाहिए। हालाँकि, कुछ स्थितियां ऐसी भी होती हैं जब अपने लिए ही खड़ा होना अत्यंत आवश्यक हो जाता है, विशेष रूप से जब आप एक किशोर लड़की हो। उसे ये बताना महत्वपूर्ण है कि कुछ परिस्थितियों में टकराव उचित रहता है। उसे व्यवहार में हमेशा शांत और सौम्य बने रहने के लिए कहें, लेकिन साथ ही अपने बयानों में दृढ़ रहना भी सिखाएं। हमेशा की तरह बेटी की नजरों में उसकी मॉडल बनें और अपनी बेटी को दिखाएं कि शांति के साथ कैसे असहमति को संभालना है और अपने कार्यों को सही ठहराना है।

पार्ट-टाइम काम करना और बजट सेट करना बताएं

समाज में रहने और जीने के लिए सभी लोगों को आय के किसी ना किसी स्रोत की आवश्यकता रहती है। बेटी को ये बात समझाने के लिए आप उसे पार्ट टाइम जॉब करने की सलाह दे सकती हैं। ताकि वो कम उम्र में ही आय के हिसाब से अपने खर्चों को मैनेज करने जैसी महत्वपूर्ण बात सीख जाए।

हमेशा खुद से प्यार करना चाहिए

ये आपकी बेटी के लिए शायद सबसे महत्वपूर्ण सलाह है। किशोरावस्था से लेकर वयस्क होने तक शरीर और सोच में कई बदलाव होते हैं, जिनकी वजह से कई बार ऐसी स्थितियां आ जाती हैं, जब उसके मन में खुद को लेकर अनिश्चय की स्थिति बन जाएगी और कई सवाल उठने लगते हैं। ऐसे हालातों से निपटने के लिए उसे खुद से प्यार करना आना बेहद जरूरी है। आप अपनी बेटी को याद दिलाएं कि वो उसके पास मौजूद सभी प्यार की हकदार है और उसे खुद से भी प्यार करना सीखना होगा। किशोरावस्था की कई चुनौतियों पर काबू पाने के लिए उसे पहले अपनी खामियों को स्वीकार करना और फिर अपनी आंतरिक भावना के साथ एक होना सीखना होगा।

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

NEXT STORY


7 tips for a successful online dating

Dislike being alone? Want a partner? Online dating gives you the possibility of finding one.

Online dating is one of the biggest inventions the world has ever seen and it’s really like relationship shopping, as the Amazon or eBay of the dating world. You surf profiles, find someone you like and start a conversation. If fortunate, they will like you back and you can look forward to a new life of love. Also, the amount of choice of potential dates which appear to be available can make the process somewhat daunting.  

  • Profile picture and description: The significance of first impressions is well known, and therefore the way in which you build your dating profile will have an influence on the way in which others initially perceive and judge you. The main thing really is to say something about your own personaltiy or interests, and preferably something you can show about yourself using an example or two. Ask someone you trust to proofread your profile to check that what you have written is a fair and honest picture of your personality and you aren’t coming across like a silly person.
  •  
  • Imagine yourself on a date with each entrant: Check the profile, look at the pictures, and imagine going on a date with this person. Can you think of a few topics to exchange about based on their profile information? If you feel you have nothing similar with your match but are really fascinated to them physically, you could always try messaging with them for a while to see if any commonalities pop up.
  •  
  • Beware of scammers: While most people on dating sites are there for authentic reasons, it’s true that there are scammers, stalkers or creeps. Even the vigilant people can be “played” sometimes, but you’ll improve your probabilities by trusting your instincts and looking for signs like: The profile seems exceptional yet generic and not revealing or they force you to reveal personal information immediately. You do an image search and find their pic. with different names and profiles on other dating sites, etc.
  •  
  • Keep the communication quick and genuine: If an interesting match makes initial contact with you, don’t try to “play it cool” or play “hard to catch.” Instead, respond soon with a message that you’ve checked out their profile and are interested in them. If you wait a few days, they’ll either move on or assume that you’re really not interested. After sending 20 to 30 texts back and forth or interacting for some weeks, you should be ready to make a decision about whether or not you’d like to move forward.
  • Be honest: Say what you mean and girls have this tendency of expecting boys to read between the lines. And yes, it’s natural to be curious about who he or she was dating before you, but these conversations will happen organically in their own time. In short, try to avoid that ex chat when you’re on your first date.
  •  
  • Think alike when it comes to sex: Try to stay on the same page in case of important conversations. If you're going to be hooking up, talk to them about getting tested. "Ask yourself what does sex means to you, whether you're sleeping around, or you're just going to be seeing each other. Be upfront with them.
  • Don’t lose yourself: Try not to make the new person the center of your world. We all have that friend who used to be so much fun, and, then suddenly started dating someone and vanished into their world. Don’t be that person. Similarly, don’t quit your hobbies for your new date. Remember that having hobbies and interests is striking to the person you’re dating.

Online dating is a bit terrifying if you have never done it, but hopefully this guide (covering the basics) is enough to get you started, and providing that you follow using your common sense and gut feeling, you’ll have a great time. Enjoy yourself and stay safe!

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

Copyright TEENTALK 2018-2019
Disclaimer: TeentalkIndia does not offer emergency services and is not a crisis intervention centre, if you or someone you know is experiencing acute distress or is suicidal/self harming, please contact the nearest hospital or emergency/crisis management services or helplines.