Log In
This site is not collecting any personalized information for ad serving or for personalization. We do not share any information/cookie data about the user with any third party.OK  NO

महात्मा गांधी से जुड़ी रोचक बातें

2 अक्टूबर 1869 को जन्मे महात्मा गांधी को भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का पितामह कहा जाता है। उन पर देश-विदेश में अध्ययन भी किया गया है। जानिए उनसे जुड़ी कुछ रोचक बातें

महात्मा गांधी भारतीय इतिहास की सशक्त आवाज थे और शांति का प्रतीक भी। उनकी अहिंसावादी सोच ने देश के लोगों को एकजुट किया। उनसे जुड़ी कई ऐसी बातें हैं जिन्हें बहुत कम लोग ही जानते हैं। जानते हैं उनके बारे में...


भारत में 2 अक्टूबर गांधी जयंती के नाम से मनाया जाता है, लेकिन पूरी दुनिया में उनके जन्मदिन को 'इंटरनेशनल नॉन वायलेंस डे' के नाम से जानती है।

जब गांधीजी 13 साल के थे तब उनकी शादी हो गई थी। उनकी पत्नी का नाम कस्तूरबा माखनजी कपाडिया था जो उनसे 1 साल बड़ी थीं। दोनों की शादी 62 सालों तक बनी रही।

महात्मा गांधी जब 16 वर्ष के थे तब उनके पहले बच्चे ने जन्म लिया था। कुछ दिनों बाद उस बच्चे की मृत्यु हो गई, लेकिन दोनों के ब्रह्मचर्य का व्रत लेने से पहले चार बेटे हुए।

यह महज एक संयोग ही है कि गांधीजी का जन्म शुक्रवार को हुआ था, भारत को आजादी भी शुक्रवार को मिली थी और उनकी हत्या शुक्रवार के दिन ही हुई थी।

गांधीजी और प्रसिद्ध लेखक लियो टॉलस्टॉय में अच्छी मित्रता थी। वे दोनों पत्र के माध्यम से बातचीत किया करते थे।

महात्मा गांधी ने लॉ कि पढाई लंदन से की थी और वह पूरे स्कूल में अपनी खराब हैंडराइटिंग के कारण चर्चा में रहते थे।

1930 में गांधीजी 'टाइम मैगजीन ऑफ थे ईयर' थे। वह इतने बड़े लेखक थे कि उनकी संग्रहित कृतियों में करीब 50,000 पृष्ठ हैं।  

महात्मा गांधीजी नोबल शांति पुरस्कार के लिए 5 बार नॉमिनेट हो चुके हैं।

गांधीजी ने 5 सालों तक सिर्फ फल, नट्स और बीज ही खाए लेकिन स्वास्थ्य बिगड़ जाने कि वजह से भोजन में अनाज शामिल किए। उन्होंने कहा था कि प्रत्येक व्यक्ति को अपना स्वयं का आहार ढूंढना चाहिए जो फायदा पहुंचाए। उन्होंने भोजन के साथ प्रयोग करने, परिणामों को देखने और अपने खाने के विकल्पों को तैयार करने में दशकों का समय बिताया। उन्होंने द मोरल बेसिस ऑफ़ वेजीटेरियनिज़्म नामक एक किताब भी लिखी थी।

गांधीजी ने शुरुआत में दूध और उससे तैयार होने वाले प्रोडक्ट्स को ना लेने कि प्रतिज्ञा ली थी। हालांकि स्वास्थ्य में गिरावट होने के कारण उन्होंने बकरी का दूध पीना शुरू किया था। कभी-कभी तो वे बकरी को साथ में लेकर घूमते थे जिससे उन्हें फ्रेश दूध मिल सके और गलती से भी उन्हें कोई गाय या भैंस का दूध ना दे दे।

गांधीजी वास्तव में एक दार्शनिक थे और भारत में कोई स्थापित सरकार नहीं चाहते थे। उन्होंने लगता था कि अगर सभी लोग अहिंसा के पथ पर चलने लगे तो स्व-शासन होगा।

जिस देश के खिलाफ उन्होंने भारत की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी, उसी ग्रेट ब्रिटेन ने उनकी मृत्यु के 21 साल बाद उन्हें सम्मानित करते हुए एक डाक टिकट जारी किया था ।

जब जवाहरलाल नेहरू स्वतंत्रता के जश्न का भाषण दे रहे थे उस समय गांधी जी उपस्थित नहीं थे।

महात्मा गांधी की शवयात्रा 8 किलोमीटर लंबी थी।

जिस कलश में महात्मा गांधी की अस्थियां रखी गई थीं, अब वह लॉस एंजिल्स, कैलिफोर्निया में स्थित है। 

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

NEXT STORY


Lesser known facts about Mahatma Gandhi

Born on 2nd October 1869, Mahatma Gandhi is the father of the Indian independence movement. Gandhi ji has been a subject of study in India and abroad. Here are some interesting facts about him

Mahatma Gandhi was a powerful voice for peace during a volatile time in India’s history. His profoundness for non-violence united the entire country. In his light of accomplishments, there are various facts about Gandhi Ji that are unknown. Here are a few of them:

To Indian, 2nd October is Gandhi Ji but Gandhi Ji’s birthday i.e. 2nd October, is also commemorated worldwide as International Day of Nonviolence.

Through a prearranged marriage, Gandhi Ji was wed at age 13; his wife, Kasturbai Makhanji Kapadia, was one year older. They were married for 62 years.

Mahatma Gandhi and his wife had their first child when he was 16 years old. That child died a few days later, but the couple did have four sons before he took a vow of celibacy.

Gandhi Ji was born of Friday, India got its independence on Friday, and he was assassinated on Friday.

Gandhi Ji and author Leo Tolstoy used to interact with each other through letters.

Mahatma Gandhi attended law school in London and was famous among the faculty for his bad handwriting.

In 1930, he was the Time Magazine Man of the Year. He was a great writer and the Collected Works of Mahatma Gandhi have 50,000 pages.

Do you know that 5 times Mahatma Gandhi was nominated for the Nobel Peace Prize?

Gandhi ate fruit, nuts, and seeds for five years but switched back to strict vegetarianism after suffering health problems. He maintained that each person should find their own diet that works best. Gandhi spent decades experimenting with food, logging the results, and tweaking his eating choices. He wrote a book named The Moral Basis of Vegetarianism.

Gandhi took an early vow to avoid milk products (including ghee), however, after his health began to decline, he relented and started drinking goat’s milk. He sometimes traveled with his goat to ensure that the milk was fresh and that he wasn’t given cow or buffalo milk.

Gandhi was actually a philosophical anarchist and wanted no established government in India. He felt that if everyone adopted nonviolence and a good moral code they could be self-governing.

The country against whom he fought for India's Independence, Great Britain, released a stamp honoring him, 21 years after his death.

When Jawaharlal Nehru was giving tryst of destiny speech to celebrate independence, Gandhi ji was not present at that time.

Mahatma Gandhi funeral procession was 8 kilometers long.

An urn that once contained Mahatma Gandhi's ashes is now at a shrine in Los Angeles, California.

If you have a story to share, Email it to us HERE.

If you have a query, Email it to us HERE.

You can also chat with the counsellor by clicking on Teentalk Expert Chat.

Comments

Copyright TEENTALK 2018-2019
Disclaimer: TeentalkIndia does not offer emergency services and is not a crisis intervention centre, if you or someone you know is experiencing acute distress or is suicidal/self harming, please contact the nearest hospital or emergency/crisis management services or helplines.